‘‘ये कैसा पल दो पल का प्यार’’ का मुहूर्त सम्पन्न

गंगोत्री पिक्चर्स प्रा. लि. कृत हिन्दी फिल्म ‘‘ये कैसा पल दो पल का प्यार’’ का शानदार मुहूर्त पिछले दिनों ओम हीरा पन्ना माॅल, ओशिवरा, मुंबई के सेन्ट्रल हाॅल में सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर अभिनेता अरुण बख्शी ने दीप प्रज्वलित किया, जबकि राकेश बेदी ने पवित्र नारियल तोड़कर मुहूर्त का श्रीगणेश किया। इस फिल्म के निर्देशक सुभाष आर. दुरगकर हैं और निर्माता हैं नरेन्द्र कुमार कापसिम, सरिता सिंह और पदम कुमार सरावगीं। कथा, पटकथा एवं संवाद व गीत नरेन्द्र कापसिम के ही हैं, जबकि संगीत अमन श्लोक का है। इस फिल्म में हरियाणवी फिल्मों की सफल जोड़ी उत्तर कुमार व लवली जोशी ही मुख्य कलाकार हैं। उत्तर और लवली ने एक साथ लगभग एक दर्जन हरियाणवी फिल्मांे में काम किया है और अधिकांश फिल्में हिट रही हैं। सचित कुमार एक प्रमुख भूमिका निभायेंगे। ‘‘अंकुश’’ और ‘काफिला’ जैसी सफल फिल्में बना चुके सुभाष आर. दुरगकर कहते हैं-मैं हमेशा कथा, पटकथा पर ध्यान केन्द्रित करता हूं। ‘अंकुश’ में नाना पाटेकर, राजा बुंदेला, मदन जैन, महावीर शाह सभी नये थे। लेकिन, विषय और कथानक इतना सशक्त था कि फिल्म की सफलता ने सबको चैंका दिया। इसमें भी एक प्रेम कहानी का फ्रेम तो है, मगर पांच हत्या और दो बलात्कार भी इस कहानी का हिस्सा हैं। इनके अलावा पांच कर्णप्रिय गीत भी हैं। इसमें एक ठाकुर का लड़का है, और एक ब्राह्मण की लड़की है। उनकी प्रेम कहानी के बीच कैसे आती हैं ये बातंे, ये घटनाक्रम, यही होगी इस फिल्म की खूबसूरती।