विराज भट्ट ने जताया प्राकृतिक आपदा पर दुख

नेपाली फिल्मों के सुपर स्टार विराज भट्ट ने नेपाल और भारत में आयी प्राकृतिक आपदा भूकंपर पर गहरा दुख जताया है और कहा है कि वे इस दुख की घड़ी में हर संभव मदद करेंगे। विराज भट्ट यहां गुजरात के राज पिपला में अपनी एक फिल्म जानम की शूटिंग कर रहे हैं। यह फिल्म भोजपुरी के साथ साथ नेपाली भाषा में बन रही है। विराज भट्ट के प्रवक्ता शशिकांत सिंह के मुताबिक जैसे ही विराज भट्ट को इस प्राकृतिक आपदा की जानकारी मिली नाजुक दिल के विराज भट्ट रोने लगे। और शूटिंग रोक दी गयी। इस प्राकृतिक आपदा में नेपाल में विराज भट्ट के आवास को तो छती नहीं हूयी मगर उनके कई परिचित इस आपदा के शिकार हुये हैं। विराज भट्ट का कहना है कि भारत और नेपाल कला संस्कृति का गढ़ है। दोनो देशो में आयी इस प्राकृतिक आपदा में वह भारत के लोगो और नेपाल के लोगो के साथ हैं और एक कलाकार के स्तर से जोभी मदद संभव होगी वह दोनो देशों के लिये जरुर करेंगे। विराज भट्ट अब भी नेपाल में लोगो के संपर्क में हैं। उन्होने लोगो से भी इस दुख की घड़ी में अफवाहों पर ध्यान ना देने की अपील की है। गौरतलब हो कि पड़ोसी देश नेपाल में शनिवार को आए भूकंप ने भीषण तबाही मचाई है। भूकंप के बाद यहां सरकार ने आपातकाल की घोषणा कर दी है। इस तबाही से यहां अब तक906 लोगों के मरने की खबर मिल चुकी है। नेपाल सरकार ने इसकी पुष्टि कर दी है। भूकंप से कई इमारतें भी जमींदोज हो गईं है। नेपाल का कुतुब मिनार कहा जाने वाला धरहरा टावर या भीमसेन टावर भी इसमें शामिल है। अभी तक इस टावर के मलबे से 180 शव निकाले जा चुके हैं। इसके अलावा काठमांडू स्थित भारतीय दूतावास को भी नुकसान पहुंचा। भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 7.5 मापी गई है। भूकंप से माउंट एवरेस्ट की चोटियों पर हुए हिमस्खलन से 18 लोगों की मौत हो गई है।

नेपाल में आई भीषण तबाही से यहां लोगों की मौत की संख्या बढ़ती ही जा रही है। अभी भी कई लोगों के मलबे में दबे होने की आशंका जताई जा रही है। राहत व बचाव का कार्य जारी है। इस बीच यहां तबाही को देखते हुए भारत के प्रधानमंत्री ने नेपाल के प्रधानमंत्री से बात की और हर संभव मदद का भरोसा दिलाया।