Mumbai में Athrav College Malad में आयोजित 14वां Bhojpuri Film Award 2019 धूमधाम से संपन्न किया गया

भोजपुरी सिने जगत का सबसे प्रतिष्ठित 14वां भोजपुरी फिल्‍म अवॉर्ड 2019 का आयोजन विगत वर्षों की भांति इस साल भी मुंबई में अथर्व कॉलेज, मलाड में समाजसेवी विनोद गुप्ता द्वारा आयोजित किया गया, जिसमें पूरी भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री सहित बहुत से गणमान्य हस्तियां मौजूद रहीं। भोजपुरी फिल्म अवॉर्ड का भव्य शुभारंभ अवार्ड के आयोजक, संस्थापक व अध्यक्ष विनोद गुप्ता, मुख्य अतिथि गुजरात स्टेट के मिनिस्टर श्री कुंवरजी भाई मोहनजी भाई बवालिया, महामंडलेश्वर डॉक्टर उमाकांतानंद सरस्वतीजी महाराज, पद्मश्री पद्मभूषण उदितनारायण, वरिष्ठ अभिनेता कुणाल सिंह तथा अभिनेता दिनेशलाल यादव निरहुआ के करकमलों द्वारा दीप प्रज्वलित करके किया गया। इस अवसर पर अवॉर्ड के फाउंडर प्रेसिडेंट विनोद गुप्ता ने बताया कि विगत 14 वर्षों से इस अवॉर्ड का आयोजन कर रहा हूं। इस अवॉर्ड में भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री को एक अलग पहचान दिलाई है।

मैं भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री के लिए जो कुछ भी हो सकता है करता रहूंगा। वहीं गुजरात के मिनिस्टर श्री कुवरजी भाई मोहनजी बवालिया ने भोजपुरी फिल्म जगत के निर्माताओं व निर्देशकों को गुजरात में शूटिंग करने के लिए निमंत्रण दिया तथा हर संभव सहयोग करने का आश्वासन भी दिया। स्वामीजी ने विनोद गुप्ता के इस कार्य की बहुत सराहना की, साथ ही कार्यक्रम मैं निमंत्रण देने के लिए धन्यवाद भी दिया। अवॉर्ड में भोजपुरी फिल्म बॉर्डर की धूम रही। फिल्म बॉर्डर के लिए दिनेशलाल यादव निरहुआ को बेस्ट एक्टर, डायलॉग के लिए संतोष मिश्रा, सपोर्टिंग एक्टर फीमेल के लिए किरण यादव, गीतकार के लिए प्यारेलाल यादव को अवार्ड मिला।

बेस्ट स्टोरी के लिए फिल्म दुल्हन चाही पाकिस्तान से 2 के लिए राजकुमार आर पांडेय को तथा डेब्यू फीमेल सुरभि शुक्ला को अवार्ड दिया गया। निरहुआ हिंदुस्तानी 3 के लिए बेस्ट फिल्म प्रवेशलाल यादव, एक्टर फीमेल आम्रपाली दूबे, म्यूजिक डायरेक्टर रजनीश मिश्रा, स्क्रीनप्ले मंजुल ठाकुर / अरविंद तिवारी, आर्ट डायरेक्शन के लिए नासिर शेख को अवार्ड दिया गया। संघर्ष फिल्म के लिए बेस्ट सोशल फिल्म रत्नाकर कुमार, सपोटिंग मेल अवधेश मिश्रा, एक्शन डायरेक्टर दिलीप यादव को अवार्ड दिया गया। फिल्म दीवानापन के लिए बेस्ट विलेन का अवार्ड संजय पांडेय, कोरियोग्राफर रिंकी गुप्ता, सिंगर फीमेल प्रियंका सिंह को दिया गया। बेस्ट निगेटिव संजय मिश्रा, पॉपुलर एक्टर प्रदीप पांडेय चिंटू को दिया गया। मां तुझे सलाम फिल्म के लिए सुरेंद्र पाल सिंह को स्पेशल जूरी मेंशन अवार्ड, बेस्ट डायरेक्टर असलम शेख, सिंगर मेल के लिए पवन सिंह को मिला।

फिल्म घूंघट में घोटाला के लिए संतोष हरवाडे को बेस्ट एडिटिंग के लिए अवार्ड मिला। डमरु फिल्म के लिए रोहित सिंह को बेस्ट कॉमेडियन का अवार्ड मिला। नरसू बेहरा को फिल्म खुद्दार के लिए बेस्ट पब्लिसिटी का अवार्ड मिला। फिल्म सनकी दरोगा को बेस्ट ऑडियोग्राफी के लिए अवार्ड मिला। फिल्म नागराज के लिए आर आर प्रिंस को बेस्ट सिनेमैटोग्राफी के लिए अवार्ड दिया गया। फिल्म यह इश्क बड़ा बेदर्दी है के लिए रोहित राज यादव को बेस्ट डेब्यू मेल तथा ग्लोरी मोहंता को बेस्ट आइटम डांस के लिए अवार्ड दिया गया। फिल्म मां तुझे सलाम के लिए अभय सिन्हा को बेस्ट पॉपुलर फिल्म के लिए अवार्ड दिया गया, वहीं रानी चटर्जी को बेस्ट पॉपुलर एक्टर फीमेल के लिए अवार्ड से नवाजा गया। लाईफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड श्री किरणकांत वर्मा को मिला। बी फिल्म्स डिजिटल मीडिया के देवेंद्र गुप्ता को पीआर के अवार्ड से नवाजा। रामचन्द्र यादव को बेस्ट पीआरओ का अवार्ड दिया गया। वहीं हमारा महानगर न्यूजपेपर को स्पेशल अवार्ड तथा पंडित प्रेम प्रकाश दूबे सिंगर को स्पेशल अवार्ड दिया गया। स्पेशल अवार्ड डायरेक्टर राजू चौहान तथा स्पेशल अवार्ड एक्टर विनोद कुमार यादव को दिया गया।

विदित हो कि कार्यक्रम की शुरुआत अभिनेता यश कुमार के शिव तांडव पर नृत्य प्रस्तुति से की गई। एक्ट्रेस रानी चटर्जी ने लता मंगेशकर के गानों पर नृत्य प्रस्तुत कर उनको एक ट्रिब्यूट दिया। वहीं आम्रपाली दूबे ने रीमिक्स गानों पर नृत्य कर दर्शकों की वाहवाही लूटी। एक्ट्रेस अंजना सिंह, एक्ट्रेस सोनालिका प्रसाद तथा आइटम सांग स्पेशलिस्ट ग्लोरी मोहंता ने भी अपनी मनमोहक नृत्य से दर्शकों का मनोरंजन किया। बॉबी दत्ता, अनिल यादव ने अपने मधुर स्वर से दर्शकों को रोमांचित कर दिया। इस अवॉर्ड शो को अवधेश मिश्रा, यश कुमार तथा सोनालिका प्रसाद द्वारा होस्ट किया गया। अवॉर्ड शो के डायरेक्टर मिस्टर अरशद खान तथा नृत्य निर्देशन संजय कुर्वे ने किया। इस अवॉर्ड शो में स्पेशल गेस्ट के रुप में अभिनेता कुणाल सिंह, सुरेंद्र पाल सिंह, शैलेंद्र श्रीवास्तव, अली खान, बिजनेसमैन दीपक ठाकुर, अजय गुप्ता , Ex.IG. UP श्री डीसी मिश्रा, श्री ज्ञान प्रकाश चतुर्वेदी (आईपीएस), कैप्टन जोगिंदर सैल, श्री प्रमोद सिंह महासचिव उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमिटी , श्री महेश राजपूत महासचिव गुजरात कांग्रेस कमिटी आदि लोग उपस्थित हुए।

गौरतलब है कि भोजपुरी फिल्‍म अवार्ड का आयोजन भोजपुरी सिनेमा के तीसरे दौर के साथ शुरू हुआ है। तब इस अवार्ड शो के लिए न तो स्‍पांसर सपोर्ट था और न तो किसी चैनल का सपोर्ट था। बावजूद इसके विनोद कुमार गुप्‍ता ने विपरीत परिस्थितियों में भी ‘भोजपुरी फिल्‍म अवार्ड’ को न सिर्फ सफलतापूर्वक आयोजित किया, बल्कि भोजपुरी इंडस्‍ट्री में इसे स्‍थापित भी किया। जिसमें विनोद कुमार गुप्‍ता की लगन और दृढ़ता काम आई और वे अनवरत हर साल भव्‍य फिल्म अवार्ड शो की तैयारी में जुटे रहे। इस फिल्म अवार्ड के निर्देशक अरशद खान हैं, वे भी लगातार 13 वर्षों से इस अवार्ड आयोजन साथ देते रहे हैं। यह विनोद गुप्ता के लिए बहुत बड़ा अवार्ड इसलिए है कि जो उनसे जुड़ा तो हरदम जुड़ा ही रहा।