खेसारी लाल यादव 33 साल के हुई अपनी मेहनत के दम पर बने सुपरस्टार

भोजपुरी सिनेमा के सुपर स्‍टार खेसारीलाल यादव का आज 33 वां जन्‍मदिन है। इस अवसर को वे मुंबई में अपने परिवार के साथ सेलिब्रेट कर रहे हैं। वहीं, सुबह से ही उन्‍हें बधाई देने वालों का तांता लगा है। खेसारीलाल यादव की पहचान किसी से छुपी नहीं है। आज वे सक्‍सेस की गाइरंटी बन चुके हैं। ये रूतबा उन्‍होंने अपनी मेहनत और लगन के बल पर इंडस्‍ट्री में जो मुकाम बनाया है, जो लोगों को आगे सफलता की ओर अग्रसर होने के लिए प्रेरित करता है।

खेसारीलाल यादव का जन्‍म 15 मार्च 1986 को बिहार के सिवान जिले में हुआ। आज 33 साल के हो चुके खेसारी ने आर्थ‍िक तंगी झेली, लेकिन मेहनत और लगन के बल पर वे आज सुपर स्‍टार हो गए। उन्‍होंने अपनी मेहनत और लगन के बल पर भोजपुरी सिनेमा में ऐसा मुकाम पाया है जो कम लोगों को मिलता है।

खेसारी का असली नाम है शत्रुघ्न कुमार यादव। परिवार की गरीबी की वजह से बिहार से दिल्‍ली आकर उन्‍होंने दूध बेचने का काम शुरू किया। वह भैंसे चराते थे और दूध बेचते थे। उसके बाद उन्‍होंने लिट्टी चोखा भी बेचा था। पिता ने उन्‍हें बीएसएफ में नौकरी करने को कहा, मगर उनका मन वहां नहीं लगा। और छोड़ दिया। फिर गाना गाने लगे। इसी क्रम में खेसारीलाल ने सबसे पहले खुद से 22 हजार रुपये खर्च कर पहला अलबम रिकॉर्ड किया लेकिन वो चल नहीं पाया। इसके बाद एक बार फिर से पैसा जोड़कर वह अपना कैसेट लेकर आए। उन्‍होंने लौंडा नाच भी किया। इस वीडियो को अच्‍छा रेस्‍पांस मिला।

फिर भारत की टेनिस सनसनी सानिया मिर्जा की नथुनिया पर गाये गाने के बाद उनकी लोकप्रियता में जबरदस्‍त इजाफा हुआ और उनकी डिमांड म्‍यूजिक इंडस्‍ट्री में बढ़ गई। और वे देखते ही देखते सुपर स्‍टार बन गए। इसका उदाहरण बीता 2018 का साल है, जिसमें सबसे ज्‍यादा हिट फिल्‍में और गाने खेसारीलाल यादव के हिस्‍से में आईं। यही नहीं, गूगल पर दुनिया भर में सबसे ज्‍यादा सर्च किये जाने वाले सिंगरों में खेसारीलाल का स्‍थान टॉप 10 में था। तब भारत के बॉलीवुड के भी किसी सिंगर को इस लिस्‍ट में जगह नहीं मिली थी।

खेसारीलाल की इस साल भी कई फिल्‍में आने वाली हैं। अभी हाल ही में उनकी फिल्‍म कुली नं. 1 का ट्रेलर जारी हुआ है, जो सुपर वायरल हो चुका है।