फिल्म राधा मंगलामुखी के मुहूर्त पर गोरखपुर में पहुंचे Ravi Kishan , किन्नर की चैलेंजिंग भूमिका में दिखेंगे विमल पाण्डेय

कला मर्मज्ञों की राय में एक कुशल अभिनेता के अभिनय की परख जानने हेतु उनसे भिखारी, विक्षिप्त, हास्य अथवा किन्नर जैसी भूमिका की सफल अदायगी उसके परिपक्वता की निशानी मानी जाती है। इसी क्रम में तमाम कामर्शियल हिंदी, भोजपुरी फिल्मों के साथ-साथ विज्ञापन जगत में भी तेजी से जगह बनाते जा रहे विमल पाण्डेय ने औरों से अलग अभिनय की दुनिया में अब कुछ गिने-चुने शॉर्ट फिल्मों की तरफ भी अपना रुख कर दिया हैं। जिससे इनकी काबिलियत सिद्ध हो सके। वहीं कुछ अलग गुलाम हुसैन निर्देशित शॉर्ट फिल्म ‘मुक्ति’ में एक गरीब पिता की भूमिका में सबको रुलाकर अपने एक्ट से खुद को बेहतर साबित किया। और अब गोरखपुर में निर्मित हो रही ‘मलय इंटरटेनमेंट’ कृत लघु फिल्म राधा मंगलामुखी में मलय मिश्रा के जबर्दस्त निर्देशन में किन्नर की चैलेंजिंग भूमिका अदा कर रहे विमल पाण्डेय ने लोगों को दांतों तले ऊँगली दबाने को विवश कर दिया है । शूटिंग देख रहे लोगों के मुँह बस एक ही बात सुनाई दी कि काश…ऐसी फिल्में आजकल क्यों नहीं बनती।
इस फ़िल्म के निर्देशक मलय मिश्रा से बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि ‘शॉर्ट फिल्म ‘राधा मंगलामुखी’ एक ऐसे किन्नर की कहानी है जिसे समाज सदैव उपेक्षित समझता है । जो कोरोना जैसी महामारी काल में भी गरीबों की भरपूर मदद करती है । कुल मिलाकर किन्नर वंश भी हमारे ही समाज का हिस्सा हैं । उन्हें अपशब्दों से अलंकृत व उपेक्षित न करके इज्जत और सम्मान की नजर से देखा जाय यहीं इस फ़िल्म का मूल विषय है ताकि लोगों तक एक सकारात्मक मैसेज जाय । विमल के चयन पर मलय ने बताया कि काफी खोजबीन के बाद ऑडिशन के दौरान विमल सेलेक्ट हुए । इनके अंदर कुछ कर गुजरने की बात ने ही हमें आकर्षित किया।
अवगत हो कि महुआ चैनल, अंजन टीवी, बिग मैजिक चैनल, हमार टीवी, फोकस टीवी सहित कुल पाँच नेशनल एंटरटेनमेंट चैनलों में सफल प्रोग्रामिंग डायरेक्टर, एक्टर व एंकर रहे मलय मिश्रा ‘पूर्वांचल आइकॉन अवार्ड’ लेकर फ़िल्म एक्टर गोविंदा के हाथों सम्मानित भी हो चुके हैं। इन्होंने इसके पहले शॉर्ट फिल्म ‘रमजान अली’ निर्देशित किया था। जिसे प्रख्यात बॉलीवुड फ़िल्म अभिनेता व सांसद रवि किशन ने सम्मानित किया था। यहाँ भी मंगलामुखी के सेट पर पहुँचे रवि किशन ने फ़िल्म को इंटरनेशनल स्तर तक ले जाने की बात का वादा किया। साथ ही फ़िल्म का फर्स्ट लुक और ट्रेलर रवि किशन के कर-कमलों द्वारा रिलीज होने की स्वीकृति भी मिली। लघु फिल्म ‘राधा मंगलामुखी’ और ‘रमजान अली’ के लेखक अजय श्री हैं जो अभी गीत नाट्य अधिकारी परिवार कल्याण लखनऊ में कार्यरत हैं। कुल 15 मिनट की फ़िल्म राधा के मुख्य कलाकारों में विमल पाण्डेय सहित कुल पाँच लोग ही हैं । इसके डीओपी सम्राट सिंह, गीत पिंटू प्रीतम, संगीत उमेश मिश्रा ओमी और दीपक श्रीवास्तव इत्यादि हैं ।
काबिलेगौर है कि उक्त फ़िल्म को लेकर किन्नर समाज के महामंडलेश्वर लक्ष्मी नारायण तिवारी तथा सांसद रवि किशन का विशेष आशीर्वाद और सहयोग फ़िल्म की शूटिंग के दौरान से ही मिलना इनके लिए सौभाग्यशाली साबित हो रहा है।